Anchor Text क्या है और SEO के लिए कितना जरुरी है?

Anchor Text क्या होता है क्या आपने कही सुना हैं या इसके बार मे detail जानते है, अगर नहीं तो कोई बात नहीं मे इस आर्टिकल मे बताऊँगा की Anchor Text क्या होता हैं |

हम post लिखने के बाध उसके अतिरिक्त जो भी  ज्यादा काम करते हैं वो seo के लिए ही काम करते हे | तो चलिए हम थोडा SEO के बारे मे भी जान ले|

SEO Term आप सब लोगों ने पहले भी सुना होगा. seo मतलब “Search Engine Optimization” होता हे | SEO का काम Search Engines के लिए Optimize कराना और website तथा Blog को गूगल के फर्स्ट पेज पर लाना और rank करना होता हे जैसे Google, Bing,Yahoo मे first page पर आदि में रैंक कराना होता हैं |.

seo कई Terms से मिल कर बना हुआ है. ये मुख्य रूप से 2 भागो में बटा हुआ है. एक होता है On-Page seo और दूसरा off-page seo. अब ये On-page और Of-page भी कई Terms में विभाजित किया जा सकता है.

Blogger अपने Post में SEO करते वक़्त Anchor Text को बहुत कम अहमियत देते है. पर anchor text भी किसी site को रैंक कराने मे बहुत मुख्य भूमिका अदा करता हे | अगर आप अच्छे से अपने post मे Anchor Text को लगते हे तो आपका Blog का Post तो rank करेगा ही पर साथ साथ लगाए हुए Anchor Text का post भी Rank हो जाता हे |

Post मे Anchor Text लगते समय ध्यान रखे की आप जिस post मे  Anchor Text लगा रहे हे उसी से related Post मे “Anchor Text” लगाए मतलब मान लीजिए की आपका post Yoga पर हे और  उस post मे जानकारी Yoga से related हे तो उस post मे Anchor text भी Yoga से ही related लगाए, नहीं की किसी Product sale या health मतलब इधर उधर से related Link न Add करे नहीं तो Black Hat seo मे अजाएगा |

Anchor Text  क्या है (What is Anchor Text in Hindi)

एंकर टेक्स्ट किसी भी website को perfect SEO optimization के लिए जरुरी होता है. तभी Good Seo होगा और Yoast seo Plugin का green signal होगा | बहुत से Blogger इनके बारे मे पढ़ा होता हे ओर सीखा भी होता हे पर वो ज्यादा जरूरी नहीं समझते हे।

एंकर टेक्स्ट वह Clickable Text होता है जो पोसत मे सभी text से बिल्कुल अलग होता हे और उस पर mouse का cursor ले जाने पर Hand का icon बन जाता हे और वह clickable होता हे अगर उसपर क्लिक करेंगे तो आप उसी blog के किसी दूसरे पोस्ट पर चले जगएगे जिससे internal link या inbound link भी कहते हे |

#.SEO क्या है – What is SEO in Hindi
#.Bounce Rate क्या है और कैसे कम करे ?

एंकर टेक्स्ट का इस्तेमाल Hyper link की तरह ,Visitor का ध्यान attract करने के लिए किया जाता है. इससे वेबसाइट या Blog का का Bounce Rate कम होता है. एक शब्द मे कहा जाए तो post का Internal और External Link को ही Anchor Text कहलाता हैं।

एंकर टेक्स्ट से website के अन्य पेज को भी Google के spider के द्वारा आसानी से भी crawl करवाया जा सकता है. इस पोस्ट में भी कुछ Text Red color का दिख रहा होगा यह भी एक एंकर टेक्स्ट है. यहाँ क्लिक करने से आप हमारे ही Blog का  किसी दूसरे post पर जायेगे जो एंकर टेक्स्ट में लिखा गया हे वही पोस्ट खुल जायेगा।

Anchor Text क्यों जरुरी है?

एंकर टेक्स्ट इसलिए भी जरूरी होता है क्यू की जब Google के crawl post पर आते हे तो content और पेज, किस चीज़ पर हे वो क्या  बता रहा हे तथा वो किस topic पर जानकारी दे रहा हे  उसकी जानकारी जुटाने के साथ साथ website को किस keyword के लिए रैंक करना है वो भी देखते है  और rank करते हे|

वेबसाइट को रैंक कराने में ये बहुत बड़ा factor है| इसलिए Anchor Text जरूरी होता हे और ये link building भी बनाता हैं |

Types of Anchor Text

एंकर टेक्स्ट कई प्रकार के होते है | Anchor Text बना कर link building बनाया जाता है जिससे किसी भी Blog की rank google और कई Search Engine में कराया जा सकता है।

आइये अब जानते है Anchor Text के प्रकार:-

1) Generic Anchor Texts –इसके नाम से पता चल रहा हे की ये general मतलब सामान्य सब्द को indicate कर रहा हे इसको Non-descriptive एंकर टेक्स्ट भी कहा जाता है। इसे आपको Blog को कोई profit नहीं होने वाला हैं, मतलब इस तरह के एंकर टेक्स्ट से website को कोई ranking या seo नहीं होता हे |

यह बहुत ही ज्यादा Simple type का Anchor text होता है. इसमें साधारण 4 से 8 words ही use होता है. इसमें Click here, read more, more,next , go this site, जैसे words का use होता है. अगर आप इस type का साधारण words पोस्ट मे एंकर टेक्स्ट के लिए use करते हे तो वो Generic Anchor Text कहलायेगा.

2) Branded Anchor Text – किसी भी text का नाम अगर कोई Brand का है तो वो Branded Anchor के list मे आएगा अभी World मे बहुत सारे brand मोजूद है. जैसे Shopping के लिए Flipkart ,Amazon,Shop clue आदि है.|
तो जब हम Post में flipkart या किसी भी brand के बारे मे बताएगे तो हम उसी brand का website की link add करेंगे और Link title में उसी brandका नाम देते हैं तो वो branded anchor कहलाते हैं।

इससे website की रैंकिंग में कोई बढ़ोतरी नहीं होती है. अगर आप अपनी website की Link Building कर रहे है तो किसी भी branded anchors का कम उपयोग करें.या न ही करे |

3) Naked link Anchors – यह anchors भी बहुत ही साधारण list मे आता है. क्यू की जब हम किसी post में किसी website का, या दूसरे webpage का नाम link में directly ही उस वेबसाईट का नाम लिखते है तो उसे Naked link anchors कहते हैं!

जैसे हमने अपनी पोस्ट में Flipkart का एक Link add कर दिया लेकिन उसका title भी Flipkart के जगह Flipkart.com कर दिया तो ये naked link anchor कहलायेगा। इसे भी आपका website का कोई वैल्यू नहीं बढ़ने वाला हैं |

4) Image Anchors – आप जब गूगल पर कोई Image search करते होंगे  तो image का list आ जाता हे और जब किसी भी इमेज पर click करते हे तो वो किसी न किसी website पर ले जाता हे |
बहुत सारे Blogger image refer करने के लिए अपनी पोस्ट में image Anchor लगते है. Image मे Alt Tag लगाने से जब भी आप उस image पर क्लिक करेंगे आप उस वेबसाइट पर पहुँच जायेंगे जहाँ से image को लिया गया है.

website पर जब भी कोई image Anchor या link की जाती है तो Search Engine उस Image के alt Tag से उसके content का पता करता है. क्यू की Search Engine image से तो keyword का पता कर नहीं सकता की website को किस keyword पर रैंक कराना है इसलिए image के साथ उसे किये गए alt Tag से search engine image के बारे में जानकारी जुटाता है.

अगर आप Website मे image का Alt tag खाली छोड़ देते है तो Search Engine उस image को बिना Anchor वाली जानकार रैंक करने में मदद नहीं कर पाता. इस तरह की इमेज लगाने या न लगने का कोई फायदा नहीं होता. इसे बढ़िया हे की image ही ना लगाए अगर Alt Tag न use करते हे तो |

5)Exact Match Anchor Text –अगर आपका target keyword “health” है और आप anchor text में “health” ही उपयोग कर रहे है तो यह आपका exact match एंकर टेक्स्ट है. और यर सही हे, Target keyword  जैसा है ठीक वैसा ही इस्तेमाल करना exact match anchor text कहलाता है|

पर जब आप एक ही post मे जरूरत से ज्यादा Anchor Text use करते हे या हर अलग Post मे same Anchor Text use करते हे तो आपका website penalize होने का भी reason बन जाता हैं |

इसके लिए आपको search engine की तरफ से penalty भी भुगतनी पड़ सकता हे . मेने ऊपर के list मे बताया हे की हम सिर्फ post content से related ही Link post add कर सकते हे |वरना हमारी website search ranking मे कम हो जाएगी |

Anchor Text के फायदे

अगर हम Anchor text का use अपने website पर करते हे तो इसके बहुत ही फायदे देखे जा सकते हैं। अगर आप एंकर टेक्स्ट को अपने website पर लगाना सिख लिया तो आपका हर Post गूगल के Search Engine मे रेंक करने लगेगा|
जानते है क्या-क्या है anchor text के फायदे –

1) Anchor text का पोस्ट में सही ढंग से उपयोग किया जाए तो आपकी page rank Search Engine मे बढ़ेगी. जितनी ज्यादा से ज्यादा page rank होगी उतना ही ज्यादा organic ट्रैफिक होगा. Search Engine मे page rank ज्यादा होने से जब भी कोई आपके target keyword से जुड़ा कुछ Search करेगा तो आपका Blog result first में index होगा.

2) Bounce rate कम कर सकते हे और किसी भी website का bounce rate कम होता हे तो वो उतना ही successful blog होता हे क्यू की विज़िटर उस website पर Time expend कर रहा हे वो एक के बाध एक पोस्ट को देख रहा हे या पढ़ रहा हे  या एक के बाध दिए हुए link पर click कर रहा होगा तभी होता हे,जब post मे Anchor Text होता हे। किसी भी website के लिए anchor text एक बहुत बड़ा अहम् role अदा करता है.

आज आपने क्या सीखा

इस post को पढ़ कर आप जान गए होंगे की Anchor Text क्या है (What is Anchor Text in hindi). इसलिए यदि आपका कोई Website है या कोई Blog है तो उसमे एंकर टेक्स्ट लगा कर अपने post को rank करवा  सकते हे। एंकर टेक्स्ट  कैसे काम करता है के बारे में ऊपर के paragraph मे पूरी जानकारी दे  दिया हे और मे आशा करता हु की आप लोगों को समझ मे भी आ गया होगा| अगर फिर भी ना आए तो आप हमे comments कर सकते हे जिससे मे आपका कुछ help कर सकु |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here