Backlink क्या है और Quality Backlink कैसे बनाये?

Backlink kya hai और Backlink kaise banaye अगर आप SEO से जुड़े हैं तो आपने अपने Backlinks के बारे में जरूर सुना होगा। Backlink सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन या डिजिटल मार्केटिंग की दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है।

जब भी कोई न्यू ब्लॉग सुरुवात करता है तो उसे SEO की जानकारी रखनी पड़ती है साथ ही साथ Backlink की भी जानकारी रखनी पड़ती है | अगर आप यह सब अपने ब्लॉग पर नहीं करते हैं तो आपका website अधूरा रहता है |

High Quality Backlinks केसे बनाए आपका ब्लॉग blogger पर है या WordPress पर उसे सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए या अपने site पर organic traffic लाने के लिए हमें high quality backlink बनाना ही पड़ता है।

जो भी पहले से ही blogging के field में हैं उन्हें backlink के बारे में पता होता है और जो इस field में नए हैं और अपना नए blog की शुरुवात कर रहे हैं उनलोगों को इसके बारे में जानना बहुत जरुरी है. इसलिए मै आपको backlink के बारे में बताने वाला हूँ की Backlink क्या है,और कैसे बनाये तथा ये कितने प्रकार के होते हैं? जो आपके blog को Google के first page पर high ranking पर लाने के लिए मदद करेगा. और साइट का DA PA को बढ़ा देगा |

जैसा कि इसके नाम से पता चलता है, यह एक लिंक है जो एक वेबपेज को दूसरे वेबपेज से जोड़ता है। यदि आप इसे और अधिक सटीक रूप से जानना चाहते हैं, तो मैं आपको एक Live उदाहरण देता हूं जैसे मैंने अपनी दूसरे पोस्टों का Title यहां पे दिया है –On Page SEO क्या है और कैसे करे?

और मैंने इस Title के लिए एक लिंक को लगाया है ताकि आप उस Title पर क्लिक करके उस पोस्ट तक पहुंच सकें। यदि आप ऊपर दिए गए Title पर क्लिक करते हैं, तो आप उस पेज पर पहुंच जाएंगे और आप उस जानकारी को विस्तार से पढ़ सकते हैं। इसे हम बैकलिंक्स या बैकलिंक कहते हैं।

जो यह लिंक हैं, वे एक वेबसाइट से हो सकता हैं या कोई दूसरे website का हो सकता हैं। अब जैसा कि मैंने ऊपर दिए गए Title में अपनी खुद की वेबसाइट का लिंक दिया है, इसलिए आप मेरे ही वेबसाइट का किसी दूसरे post पर जाएंगे। अगर मैं किसी अन्य वेबसाइट का लिंक डालता तो आप किसी दूसरे website पर direct चले जाते ।

और भी सरल भाषा में उधारण के साथ बताया जाए तो , मान लीजिये कोई एक अच्छा website हैं जहाँ बहुत से visitors उसके page में article पढने आते हैं, अगर आपके site का link या कोई भी पोस्ट का लिंक उस web page में दिया जाए तो उस page में आने वाले visitors आपके site के link पर click कर आपके web page में आने लगेंगे जिससे आपके भी site पर visitors हर दिन बढ़ने लगेंगे और आपका website search engine में अच्छे rank पर आने लगेगा. इसी चीज को हम backlink कहते हैं.

अगर आप देखें तो इंटरनेट एक तरह से बैकलिंक्स का जाल है, जिसके माध्यम से हम एक पेज से दूसरे पेज पर जाते हैं। यहां तक ​​कि अगर आप इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं, तो आपने देखा होगा कि नेट में आप एक लिंक पर क्लिक करके दूसरे पेज पर पहुंचते हैं, दूसरे पेज में आपको अधिक लिंक मिलते हैं, फिर वहां से आप तीसरे पेज पर जाते हैं और इस तरह से इंटरनेट, लेकिन दुनिया भर में ऐसे बैकलिंक हैं जो एक वेबपेज को दूसरे वेबपेज से जोड़ते हैं, इसलिए उन्हें बैकलिंक्स भी कहा जाता है। बैकलिंक्स को इनबाउंड लिंक या इनकमिंग लिंक भी कहा जाता है।

अब आप समझ गए होंगे के backlink क्या है. अब आपको इससे जुड़े कुछ terms हैं जिनके बारे में आपको जानना बेहद जरुरी है तभी आप इसके बारे में अच्छे से समझ पाएंगे और उसका इस्तेमाल अपने blog में करेंगे. तो चलिए जानते हैं उन terms के बारे में वो क्या -क्या हैं |

1) Link Juice: एक ही विषय पर बने ब्लॉग एक दूसरे से जुड़े होते हैं, फिर उस लिंक का मूल्य अधिक होता है जिसे हम लिंक जूस कहते हैं। मान लीजिये आप एक ब्लॉग बनाते हैं जो एंड्रॉइड डेवलपमेंट के बारे में है और हमारे पास उसी विषय पर एक और  ब्लॉग  है जिस पर हम आपकी वेबसाइट को लिंक के माध्यम से जोड़ते हैं, तो हमारा ब्लॉग आपके ब्लॉग को जूस प्रदान करता है। यह भी एक तरह का बैकलिंक्स है। ये link juice आपके article को rank करने में मदद करता है और आपके domain authority को भी बेहतर करता है.

2) Low quality links: Low quality links वो links होता है ,आपका ब्लॉग जिस टॉपिक पर हे उस टॉपिक पर अन्य साइट पर backlink न बनाना किसी और टॉपिक पर backlink बनाना या किसी गलत sites, spam sites,gambling, hacking या फिर porn sites से backlink लेना low quality backlink कहलाता  है।ये आपके website को सिर्फ नुक्सान ही पंहुचा सकता है, इसलिए जब भी आप backlink का इस्तेमाल अपने blog में करे तो इस चीज का ध्यान जरुर रखें की आपकी blog की link high quality link से जुडी होनी चाहिए.

3) High quality links: High quality back links जिस website आती हैं जिस website का DA,PA high रहती हैं quality website वो होते हैं जो popular होते हैं और जिनका value google में ज्यादा रहता है. अगर आपके website में भी high quality website तथा जिसका PA (Page Revenue) high है ,से backlink मिलते हैं तो search engine में आपके website को high ranking प्राप्त होगी.

4) Internal links: जो एक ही website के भीतर एक पेज से दूसरे पेज को लिंक करते हैं उन्हें Internal Link कहा जाता है। अगर हम अपने Domain Authority को बढ़ाना चाहते हैं, तो उसके लिए हमें अपने एक आर्टिकल का लिंक दूसरे संबंधित आर्टिकल में डालना चाहिए, ऐसा करने से हमारी रैंकिंग Google पर अच्छी होगी और DA रैंकिंग भी बढ़ेगी।
इसका दूसरा फायदा यह भी हैं मान लीजिए आपके website का एक article google के first page पर rank है और आप अपने दुसरे article को भी उसी की तरह google के Search Engine मे अच्छे rank पर लाना चाहते हैं तो आप इनदोनो article को एक दुसरे के साथ link कर सकते हैं.

5)External Link : जब हम अपनी वेबसाइट के किसी Article पर किसी दूसरी website का लिंक डालते हैं, तो उस लिंक को External Link कहते हैं। जब हमारी वेबसाइट का लिंक किसी दूसरे वेबसाइट पर होगा, तब Google हमारी वेबसाइट को प्राथमिकता देता है, और Google को सर्च इंजन में सबसे ऊपर लाता है।

6)Anchor Text : hyperlinks के लिए उपयोग किए जाने वाले Text को “Anchor Text” कहा जाता है। जब आप किसी कीवर्ड को रैंक करने का प्रयास कर रहे हों तो एंकर टेक्स्ट बैकलिंक बहुत अच्छा होता है।

 

Backlink कितने प्रकार के होते हैं – Types of Backlinks?

Backlink दो प्रकार के होते हैं एक है do follow backlink और दूसरा है no follow backlink. चलिए इनके बारे में विस्तार से जानते हैं की ये केसे काम करता हैं |

1# Do Follow Backlink

Search Engine में Top पर किसी भी Page या Article को रैंक करने के लिए, Do-Follow Backings का बहुत बड़ा योगदान होता है। एक ब्लॉग से दूसरे ब्लॉग पर जाने के लिए, Do Follow Link Juice को Pass करता है ।

what is backlink in hindi

मैंने आपको link juice के बारे में पहले ही बता दिया है, हम अपने ब्लॉग पोस्ट के अंदर जो भी बाहरी लिंक, लिंक करते हैं, वे अन्य सभी ब्लॉग के लिए फॉलो-बैकलिंक होते हैं।
यदि आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए अच्छी Do Follow back links बनाना चाहते हैं, तो इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि आप किसी Popular वेबसाइट पर पोस्ट करें या किसी जानी-मानी वेबसाइट पर Comment सेक्शन मे जाकर comment करें और उस comment में अपने article का लिंक डालें।

बता दू की by default सारे links जो भी आप दुसरे website पे या blog post पर देते हैं वो सभी do-follow backlink होते हैं.

<a href=”yourwebsite.com“>Link Text</a>

2# No Follow Backlink

जब भी कोई वेबसाइट किसी दूसरी वेबसाइट से लिंक करता है, लेकिन अगर उस लिंक में No follow टैग है तो लिंक जूस को पास नहीं करता है। पेज रैंकिंग के बारे में, No follow लिंक उपयोगी नहीं है क्योंकि वे कुछ भी योगदान नहीं करते हैं। किसी भी No follow Link टैग का उपयोग तब किया जाता है जब कोई व्यक्ति अविश्वसनीय साइट (Unreliable Site) से लिंक करता है।

<a href=”yourwebsite.com” rel=”no follow“>Link Text</a>

अपने Blog के लिए  Backlink केसे बनाए ?

Backlink एक ऐसा वर्ड है  अगर आप blogging से जुड़े हो तो ये एक बार करने का चीज नहीं है जो एक बार करके छोड़ दे तो आपका काम हो जाएगा |

आप जब तक ब्लॉगिंग से जुड़े रहेगे तब तक करना पड़ेगा जो आपके website के लिए बहुत ही अच्छा साबित होगा |

Backlinks बनाने के लिए कोई सीमा भी नहीं है की आप कितने backlink बनाते हैं आप जितने चाहे उतने back links create कर सकते है, लेकिन वो सभी links आपको quality website से create करने होंगे | आप Quantity पर ध्यान न दे |
Quality अच्छा होना चाहिए नहीं तो आप हजारो back links क्यूँ ना बना ले, अगर वो quality website मे नहीं होंगे तो आपके blog का इससे कोई फायेदा नहीं होगा, और हो सकता है Google आपके blog को आगे जाकर penalize भीं कर दे.

Blog के लिए Quality back links कैसे बनाये यहां पर आसान एवं बेहतर तरीकों को जानेंगे।

1) Guest Blogging जरुर करें

सरल भाषा में कहा जाए तो आपका जो भी आर्टिकल है, Link आप एक ऐसे वेबसाइट पर डालना चाहते हैं जिसका DA(Domain Authority) PA (Page Authority) एवं PR (Page Ranking) बहुत High होता है उस वेबसाइट पर बहुत सारी ट्रैफिक आती हो |

अगर आप वहां पर अपना आर्टिकल का Link या website का Link को डालना चाहते हैं गेस्ट पोस्ट करना चाहते हैं तो वहां से आपको ट्रैफिक मिलेगा और Backlink भी मिलेगा | जिससे की उस blog के visitor आपके blog के बारे में धीरे धीरे जानने लगेंगे और आपके blog में traffic होने लगेगी. Guest blogging की मदद से आपको अच्छी back links मिलेगी.

2) Comment करना शुरू कर दें

अपने ही blog के niche से related दुसरे अच्छे blogs पर comment करना शुरू कर दें इससे आपके blog के लिए No Follow links मिलता है, पर ये कुछ हद तक फयिदेमंद है. जिस भी blogs में आप comment करेंगे वहां comment के साथ साथ अपने blog का या Page का  URL देना ना भूलें, ऐसा करने से आपको अच्छे back links मिलेंगे और उसके साथ साथ आपके blog पर ज्यादा से ज्यादा visitors आने लगेंगे जिससे आपके site का rank भी बढ़ने लगेगा.

अपने ही blog के niche से related दुसरे अच्छे blogs पर comment करना एक बहुत ही आसान तरीका है इससे आपके blog के लिए No Follow links मिल सकता है |Comments से Backlink पाने के लिए , आप अपने website से संबंधित अन्य high authority site पर कमेंट करते समय अपने site या फिर किसी particular page का लिंक दे सकते हैं।

SEO के लिए Backlinks क्यों जरूरी है?

जब आप किसी भी Topic के बारे में जानना चाहते हैं, तो पहले आप Google पर search करते हैं और आपको आपके द्वारा खोजे गए कीवर्ड से संबंधित कई लिंक देखने को मिलते है फिर आप पहले उस वेबसाइट को खोलते है जो नंबर 1 पर आया हैं |यदि आपको वहां जानकारी अच्छी नहीं लगती है, या आपको सही नहीं लगती है , फिर किसी अन्य वेबसाइट पर जाते है अन्यथा तीसरे और उसी विषय के बारे में जानने के लिए कई वेबसाइटों पर जाते है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि Google यह कैसे तय करता है कि किस वेबसाइट को नंबर 1 पर दिखाना है और किस वेबसाइट को 2 वीं रैंक दी गई है और कौन सी वेबसाइट 3rd और 4 th मे रखना है , एक ही सीरीज में, 5, 6, 7, आदि… .. तो चलिए मैं आपको बताता हूं।

वैसे तो Google के कई नियम हैं, जिनका पालन करके आप अपनी वेबसाइट को सबसे ऊपर ला सकते हैं, लेकिन कुछ महत्वपूर्ण बातें हैं जिनके आधार पर Google वेबसाइट को रैंक करता है।

*वेबसाइट के कितने बैकलिंक्स हैं?
*वेबसाइट के पास कितने quality back links हैं?
*वेबसाइट पर पोस्ट कब तक है?
*वेबसाइट कितनी पुरानी है?
*वेबसाइट पर उन शब्दों का कितनी बार उपयोग किया गया है जिनके बारे में visitors ने Search की है?
*क्या वेबसाइट पर लगातार articles published होते हैं या नहीं?
*वेबसाइट किस विषय से संबंधित articles publish करती है?

इसलिए मुझे उम्मीद है कि आपको बैकलिंक्स के बारे में सही जानकारी मिल गई होगी, फिर भी बैकलिंक्स से संबंधित कोई अन्य प्रश्न आपके दिमाग में है, तो आप इसे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं या हमसे संपर्क कर सकते हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here