spinel, spinel red, लालड़ी रत्न | benifits of spinel red

लालड़ी

पर्याय नाप-सं.-सूर्य रत्न।
हिन्दी – लालड़ी
फारसी-लाल।
English – स्पाइनेल रेड(spinel red)

परिचय -लालडी,माणिक्य के अभाव में या जो व्यक्ति बहुमूल्य माणिक्य खरीद नहीं सकते पहना जाता है। लालड़ी प्राय: गहरे सुर्ख लाल रंग का, रक्त वर्ण का, सिन्दूरी रंग की आभायुक्त, चमकीले चमकीले स्वच्छ वर्ण वाला, गुलाब के फूल के रंग के समान, अनार की कली के रंग  के समान, कषाय वर्ण के, गुलबास के समान सुर्ख श्याम वर्ण वाला तथा हल्के गुलाबी रंग का होता है।

लालड़ी के गुण

लालडी स्निग्ध, चमकदार, पानीदार, सुन्दर, शुद्ध रंग वाली, हाथ में रखने पर कुछ पश्चात गरम अनुभूति, पानी में डालने पर लाल रंग की किरणें निकलती हुई दिखाई देना तथा दूध में डालने पर दूध का रंग लाल दिखाई देना तथा हाथ में लेने पर सामान्य से अधिक वजन मालूम पड़ना।

लालड़ी के दोष

1. धूमिल तथा अस्पष्ट रंग वाली लालड़ी प्राणनाशक व शरीर को कष्ट देने वाली होती है।
2. अपारदर्शी लालड़ी हृदय रोग पैदा करती है।
3. रेखाओं से मकड़ी के जाल के समान चिन्हित लालड़ी भी स्वास्थ्य नाशक है।
4. एक रेखायुक्त या छोटी-छोटी रेखाओं से युक्त लालड़ी से शस्त्राघात का भय  होता है।
5. गड्ढेदार या टूटी हुई लालड़ी पशुधन नाशक है।
6. दो रंगों से युक्त या छोटे काले रंगों के धब्बे से युक्त या शहद के समान छोटे से युक्त, रक्त के समान लाल रंग की छींटे से युक्त अथवा स्वेत  रंग के छींटों-छींटों से युक्त लालड़ी धन, जन, स्वास्थ्य, यश, मान आदि के लिए हानिकारक है।
1.Ruby, manik stone, माणिक्य रत्न | benifits of manik ratan
2.
मोती का उपयोग benifits of pearl stone
3.दो मुखी रुद्राक्ष को धारण करने की विधि एवं लाभ

spinel red

लालड़ी के उपरत्न

लालड़ी के भी तीन उपरत्न होते हैं। जिन्हें लालड़ी के स्थान पर ग्रहण किए हैं। ये निम्न हैं

1. संग आतशी-यह बादामी रंग का तथा आतशी रंग का पत्थर है। इसके का काले, पीले या गुलाबी रंग के छींटे होते हैं।
2. संग सिन्दूरिका-यह सिन्दूरी तथा गुलाबी रंग का होता है।
3. संग टोपाज-यह गेरुआ रंग का तथा स्निग्ध पत्थर है।

माणिक्य के अन्य उपरत्न

लालड़ी के अतिरिक्त माणिक्य के तीन और उपरत्न होते हैं, जो निम्न हैं

1. संग माणिक्य-यह गुलाबी, लाल, पीले तथा काले रंग का, स्वच्छ स्निग्ध व हल्की आभायुक्त होता है।

2. संग तामड़ा-यह गहरे लाल रंग का होता है।

3. माणिक्य सिंगही-यह अभ्रक के रंग का तथा चिकना होता है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here